श्रद्धेय शैल बाला पण्ड्या

प्रमुखः श्री वेदमाता गायत्री ट्रस्ट, शांतिकुंज

वर्तमान प्रमुख (संचालिका) शांतिकुंज आश्रम - गायत्री परिवार का मुख्यालय । सफलता पूर्वक मुख्यालय का प्रबंध संचालन ।

धर्मपत्नी डॉ.प्रणव पण्ड्या ( कुलाधिपति- देव संस्कृति विश्वविद्यालय व निदेशक-ब्रह्मवचर्स शोध संस्थान ) के साथ इस विशाल संगठन के क्रियान्वयन में सहभागीदारी ।

जीवन वृत्त जन्म 20 दिसम्बर, 1953 (गीता जयंती) अखण्ड ज्योति संस्थान, घीयामण्डी, मथुरा ।
माता-पिता के सानिध्य एवं आध्यात्मिक परिवेश में पालन ।

देवी अहिल्या बाई विश्वविद्यालय इन्दौर से मनोविज्ञान में स्नातकोत्तर उपाधि । स्नातक शिक्षण के साथ अन्य गतिविधियाँ एवं एन.सी.सी.का उच्च शिक्षण । इन्दौर विश्वविद्यालय, भारत से चिकित्सकीय मनोविज्ञान के क्षेत्र में सराहनीय शोधकार्य एवं लेखन। फरवरी 1968 से प. पूज्य गुरुदेव की प्रेरणा से गायत्री परिवार के क्रिया कलापों में सक्रिय भागीदारी ।


  • 1978 से डॉ.प्रणव पण्ड्या व डेढ़ वर्ष के पुत्र चिन्मय के साथ शांतिकुंज में निवास प्रारम्भ ।
  • 1980 से 1994 तक परम पूज्य गुरुदेव एवं वंदनीया माता के साथ नारी जागरण अभियान में सक्रिय भागीदारी व भारत के बाहर लाखों व्यक्तियों को प्रवचन से सम्बोधन ।
  • परम वंदनीया माताजी के महाप्रयाण के पश्चात 1994 से मातृसत्ता के रूप में एवं गुरुसत्ता के सूक्ष्म मार्गदर्शन में गायत्री परिवार की देखभाल । प्रतिदिन हजारों लोगों को असीमित प्यार व दुलार, उनके कष्ट निवारण एवं हजारों की संख्या में भेंटवार्ता ।
  • सफलता पूर्वक इस मिशन का कार्य संचालन करते हुए भारत व भारत के बाहर प्रतिदिन 3 हजार से अधिक पत्रों का पत्राचार द्वारा व्यक्तिगत समाधान ।


Related Multimedia

Videos 

View More 

अपने सुझाव लिखे: