युगशिल्पी प्रशिक्षण सत्र

एक मासीय युगशिल्पी प्रशिक्षण सत्र

(प्रत्येक माह की १ से २९- तारीखों में):-

सत्र का उद्देश्यः

इस सत्र का उद्देश्य हैं अपना जीवन जीते हुए लोकसेवी की भूमिका का निर्वाह करने के लिए सामान्य स्तर के साधकों को प्रेरित करना। इस सत्र के द्वारा शिविरार्थियों में उसी प्रकार सदाचार का बीजारोपण किया जाता है, जिस प्रकार पहले गुरुकुलों में सत्प्रवृत्ति संवर्धन हेतु जनमानस को तैयार किया जाता था। साथ ही, प्रतिभागियों का समग्र विकास भी सुनिश्चित किया जाता है।

सत्र के कार्यक्रम -
  •     जीवन जीने की कला का प्रशिक्षण।
  •     कर्मकाण्ड प्रशिक्षण।
  •     भाषण सम्भाषण प्रशिक्षण।
  •     संगीत प्रशिक्षण (ढ़फली के साथ)।
  •     स्वावलम्बन प्रशिक्षण।
  •     आयुर्वेद का प्रारम्भिक प्रशिक्षण।
  •     नियमित एवं संयमित दिनचर्या के अभ्यास का निर्देशन।

सम्पर्क सूत्र-९२५८३६०६५५, ९२५८३६७४९
Apply Online        

DAILY ROUTINE OF YUG SHILPI SATRA

Yug Shilpi satra
Sr. No. Time-Apr-Sept  Time-Oct-mar    
Activity
1 3:30-5:15 AM 04:00-04:30 AM Jagran, Morning Meditation, Amrit Vani
2 5:15-6:15 AM 5:15-6:15 AM Yog Class (Art of dialogue for spreading the thoughts of sages)
3 6:15-8:00 AM 6:15-8:00 AM  Yagya  & Akhand-Deep Darshan
4 8:00-9:00 AM 8:00-9:00 AM Bhashan-Sambhashan
5 11:00-12:00AM  11:00-12:00AM  Dhapali (Singing the Impelling songs by playing 'Dhapali' )
6 12:00-1:00 PM 12:00-1:00 PM Karmkand (  Training on Yagya & inspiring religious rituals of preliminary sanskars of various types)
7 2:00-3:00 PM 2:00-3:00 PM Swablamban (Aid & General precautions for Health & emergency )
8 3:00-4:00 PM 3:00-4:00 PM Shramdan
9 6:00-6:15 PM 6:00-6:15 PM Naadyog Meditative Cult
10 6:30-7:30 PM 6:30-7:30 PM Sangeet
11 7:30-8:00 PM 7:30-8:00 PM Bauddhik (Information about "Thought Revolution"  & Mission . )


अपने सुझाव लिखे: