वृक्ष गंगा अभियान


वृक्ष गंगा अभियान
एक करोड़ वृक्षारोपण
(तरू पुत्रध्तरू मित्र बनें)

दष कूप समो वापी दषवापी समो हृदः।
दष हृदः समः पुत्रः दषपुत्र समो द्रुमः।।

भावार्थ- दस कुओं के समान एक वापी होती है। दस वापियों के समान एक सरोवर होता है। दस सरोवरों के समान एक पुत्र का महत्व है। इसी प्रकार दस पुत्रों के समान एक वृक्ष लगाना पुण्यदायी होता है।

वृक्ष विशपायर षिव है जो सदा कल्याण करते हैं संसार के विश (co2)) को पीकर कल्याणकारी प्राणदायी प्राण वायु (व्2 )) प्रदान करते हैं। अपने जीवनकाल में करोड़ों की सम्पदा प्रकृति में लुटाते हैं और अपने देवता होने का प्रमाण देते हैं। एक मनुश्य को सम्पूर्ण जीवनकाल में जितनी आॅक्सीजन एवं काश्ठ की आवष्यकता होती है उसे तीन पेड़ मिलकर पूरा करते हैं। अतः हम सभी को अपनी सासों के कर्ज से मुत्कि हेतु न्यूनतम तीन वृक्ष लगाना और पालना चाहिए।
वृक्ष ही हमारे जीवन साथी हैं बचपन के पालने से लेकर अन्त्येश्टि की लकड़ी इन्हीं से प्रान्त होती है। वृक्ष ही हैं जो बादलों को आकर्शित करते नदियों को सदानीरा बनाते और प्राणी जगत के जीवन को आधार देते हैं।

एक वृक्ष के अनुदान (50 वर्श में)
१. प्राण वायु ;व्गलहमदद्ध त्ेण्5ए00ए000
२. वायु प्रदूशण नियंत्रण एवं भूमि की उत्पादकता वृद्धि
;।पत च्वससनजपवद ब्वदजतवस -- प्उचतवअमउमदज पद ैवपस थ्मतजपसपजलद्ध त्ेण् 31ए00ए000
३. भूमिक्षरण नियंत्रण त्ेण् 15ए60ए000
४. जल संरक्षण त्ेण् 18ए80ए000
५. पषु पक्षियों का आश्रय त्ेण् 16ए60ए000
६. काश्ठ, फल, चारा त्ेण् 4ए00ए000
कुल योग (एक करोड़ एक लाख रूपये) त्ेण्1ए01ए00ए000

श्रीराम स्मृति उपवन
(षहर- नगर के सार्वजनिक स्ािलों के लिये)
श्रीराम स्मृति वनध् पर्वत
(षहर- नगर से दूर व गाॅंवों की परतीध् ख़ाली भूमि व पहाड़ियों के लिये)
श्रीराम वाटिका
(घर व फार्म हाऊस आदि निजी स्तर के लिये)

उद्देष्य
आसन्न पर्यावरण संकट यथा- ग्लोबल वार्मिंग, ग्रीन हाउस प्रभाव, मौसम चक्र का असंतुलन, बढ़ता प्रदूशण, विरल ओजोन परत के संबंध में जन- जागरण करना एवं समाधान हेतु वृक्षगंगा अभियान में भागीदार बनाना।

श्री राम स्मृति वनध्पर्वत
स्मृति वनध्पर्वत षहर -- नगरों से दूर, गाॅंवों खाली भूमि व पहाड़ियों को हरा- भरा करने का पर्यावरण संवर्द्धन का, भूमि- जल संरक्षण का प्रकृति- संतुलन ग्लोबल वार्मिंग रोकने हेतु बहुत ही उपयोगी सेवा कार्य है। साथ ही समाज में व्यत्कि की स्मृतियों, जन्म दिवस, विवाह दिवस, पुण्य तिथि आदि को चिर स्थायी बनाये रखने के लिये वृक्षों को रोपित करने का एक देवकार्य भी है।

वनध्पर्वत घटक
उपयोगी वृक्ष
वनौशधियाॅं
ध्यान- प्राणायाम स्ािल
भ्रमण परिक्रमा पथ।
उपलब्धियाॅं
पर्यावरण संरक्षण
संवर्धन
भूमि- जल संरक्षण
पक्षियों के लिये आश्रय
जन्म दिवस, विवाह दिवस, पुण्य तिथी आदि स्मृतियों का चिरस्थायी स्थल।




“Taru Mitra” And “Taru Putra”
  • Awareness about Environment and health;
  • Healthy Body - Pure Mind;
  • Shriram Memorial Garden, Clean-Green and Healthy Environment;

Dasa kupa samo vapi dasavapi samo hrida.
Dasa hrida sama putra dasa putra samo druma.
A step-well is equivalent to ten wells. A lake equals to ten step-wells.A son’s importance is equal to ten lakes but much higher a deed is to plant a single tree.

Objective
  • To ensure involvement of masses in creating environmental awareness.
  • Start new projects such as Yoga-Meditation, Herbs Production, Acupressure and Ayurvedic Treatment in these gardens.
  • To develop civilized society with the help of Healthy body and clean mind.
Our Work Plan

Selection of abundant garden in the city or barren land or hill in village area.

For City/ Urban Area: 
  • Development of Shriram Smriti Upwan in City.
  • Development of a garden (Yugrishi Pt. Shriram Sharma Acharya Smriti Upvan)
  • Take over a abundant garden for development with the help of local authority & public.
  • Preparation of layout plan for -
  • Acupressure path.
  • Plantation of holy trees - Nakshtra vatika, Graha vatika, Rashi vatika.
  • Herbal plant beds along with acupressure path.
  • Arrengment for juice of loki (gourd), jawara, aloe vera, sported cereal etc for visitors.
  • Yoga center/meditation/pyramid dyam and Birds shatter.
  • Memorial plants plantation.
For Rural Area:
  • Development & plantation on hill/ barren land in villages.
  • Allotment of hill/area
  • Development of land/fencing.
  • Tube well/ irrigation source.
  • Celebration of TARU PUTRA YAGYA with the help of selected Mother & Father of Taru (Tree).
  • Plantation
Our Expectation
Plant at least one tree and take it's entire responsibility just like your son/daughter.

News 

Read More  


Related Multimedia

Videos 

View More 

अपने सुझाव लिखे: