साधना शिविर मुन्स्यारी

Read this in English
उत्तराखंड के हिमालय की गोद में (पिथौरागढ़ जिले) में नवप्रतिष्ठित गायत्री चेतना केन्द्र, मुन्स्यारी में विशेष साधना शिविरों की शृंखला १ अक्टूबर से आरंभ होकर २९ नवम्बर २०१६ तक चलेगी। प्रत्येक शिविर में शांतिकुंज से पूर्व स्वीकृति प्राप्त २४ से ३० साधकों को स्थान मिलेगा।

शिविर की तिथियाँ - प्रत्येक शिविर पाँच दिवसीय होगा। शांतिकुंज से मुन्स्यारी जाने और शिविर के बाद लौटने में २- २ दिन लगते हैं, अतः इनमें भाग लेने वाले साधकों का कुल ९ दिन का समय लगेगा।

अक्टूबर और नवम्बर २०१६ में ये शिविर १ से ९, ६ से १४, ११ से १९, १६ से २४ तथा २१ से २९ तक की तारीखों में आयोजित होंगे।

शिविर संबंधी जानकारी व अनुशासन -

• प्रत्येक शिविर के पहले दिन साधकों को शांतिकुंज पहुँचना होगा। यहाँ से उन्हें मुन्स्यारी ले जाया जायेगा। जाते समय बीच में एक रात्रि विश्राम करना होता है। मुन्स्यारी जाने और वहाँ से लौटने में एक व्यक्ति का लगभग दो से तीन हजार रुपये का यात्रा खर्च होता है। इसकी अतिरिक्त व्यवस्था बनाकर रखें।

• चेतना केन्द्र ७३०० फीट की ऊँचाई पर है, खड़ी चढ़ाई वाले पहाड़ी रास्ते हैं, प्रतिदिन लगभग २०० सीढ़ियाँ चढ़नी- उतरनी पड़ सकती हैं। ठंड अधिक होती है। इन्हें देखते हुए केवल स्वस्थ व्यक्ति ही शिविर में भाग लेने के लिए आवेदन करें। हृदयरोग, उच्च रक्तचाप, अस्थमा, जोड़ों के दर्द के मरीज कृपया आवेदन न करें।

• साधना के लिए आने से पूर्व अपना मेडिकल चेकअप, रक्त की जाँच वगैरह अवश्य करा लें। जो दवाइयाँ नियमित रूप से लेते हैं, कम से कम १५ दिन के लिए उन्हें लेकर आयें।

• बीमार हों तो न आयें। छोटे बच्चों को साथ बिलकुल न लायें। बिना स्वीकृति प्राप्त व्यक्ति को साथ न लायें।

• गर्म कपड़े (स्वेटर, जैकेट, शॉल, मोजे आदि) साथ लेकर जरूर आयें।

• किसी कारण से स्वीकृति प्राप्त साधकों का आना स्थगित हो जाता है तो कम से कम ८ दिन पहले उसकी सूचना शांतिकुंज को अवश्य दे दें।

इन शिविरों में भाग लेने के इच्छुक परिजन अपने आवेदन  -
शिविर विभाग, शांतिकुंज, हरिद्वार- २४९४११  को भेजें।

ई- मेल : shivir.munsiyari@awgp.in

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें-
९२१९०५००८८, ९२५८३६०५४४

Apply Online | गायत्री चेतना केन्द्र, मुन्स्यारी

Photos



अपने सुझाव लिखे: